पटवारी बनने के लिए क्या करें, शैक्षणिक योग्यता, वेतन आदि जानकारी हिन्दी में

Hello friends, एक बार फिर आपका स्वागत हैं careerinhindi.com में, दोस्तों आज हम यहाँ पर पटवारी कैसे बनें इस विषय पर बात करेंगे.  हमें उम्मीद हैं कि आपको हमारी अन्य पोस्ट की तरह यह पोस्ट “पटवारी बनने के लिए क्या करें, शैक्षणिक योग्यता, वेतन आदि जानकारी हिन्दी में” भी पसंद आएगी और आपके ज्ञान की वृधि करेगी. दोस्तों शुरू करने से पहले हमें यह जानना जरुरी हैं कि पटवारी क्या होता है और इसके क्या कार्य हैं? तो आइये शुरू करते हैं |

पटवारी बनने के लिए क्या करें, शैक्षणिक योग्यता, वेतन आदि जानकारी हिन्दी में

पटवारी बनने के लिए क्या करें, शैक्षणिक योग्यता, वेतन आदि जानकारी हिन्दी में

[adinserter block=”13″]

पटवारी क्या/कौन होता है ?

पटवारी पद एक ऐसा पद हैं जो कि ग्रामीण/शहरी  क्षेत्रों  में पदस्थ होकर अपने क्षेत्र का पूरा अभिलेख  (Record) रखता हैं, जैसे : खेती किसानी, जमीन नक़्शे, जमीन की खरीदी बिक्री, जमीन का हस्तांतरण, आय जाती प्रमाण पत्र राजस्व अभिलेख आदि कई कार्य हैं जो पटवारी करता हैं. बचपन में शायद आपने स्कूल में मांगे गए आय-जाती के प्रमाण पत्रों के लिए खूब दौड़ लगाई होगी, और हो सकता है आपने पटवारी के पास भी गए होंगे किसी पेपर पर हस्ताक्षर कराने |

यह एक राज्य सरकार का कर्मचारी होता हैं जो उपरोक्त अभिलेखों के आलावा राज्य सरकार के विभिन्न कार्यों में अपना सहयोग देता हैं | इसका मुख्य कार्य राजस्व (Revenue) से सम्बंधित होता हैं. अलग अलग क्षेत्रों में पटवारी को अलग अलग नामों से जाना जाता हैं| मध्यप्रदेश में पटवारी तो उत्तराखंड में राजस्व पुलिस तो कहीं किसी और नाम से जाना जाता हैं किन्तु इनके कार्य लगभग हर जगह एक सामान ही होते है |

[adinserter block=”11″]

पटवारी के क्या कार्य होते हैं

राज्य सरकार के राजस्व एवं अभिलेखों जैसे महत्वपूर्ण कार्य के आलावा पटवारी के अन्य कई कार्य होते हैं जो निम्न हैं |

  • जमीन के नक़्शे का रिकॉर्ड रखना
  • किसी विवाद कि स्थिति में जमीन का सही नाप करवाना
  • खेती/रहवासी जमीन का ब्यौरा रखना
  • आय-जाती के प्रमाण पत्र बनवाना
  • जमीन नामांतरण या हस्तांतरण करवाने में  मदद करना
  • जमीन की खरीदी बिक्री का अभिलेख तैयार करना
  • किसी भी आपदा की स्थिति में सरकार को अवगत करवाना
  • फसल बिमा आदि के दावे स्वीकृत करवाने में मदद करना
  • अपने क्षेत्र की जानकारी सरकार तक भेजना

यह पोस्ट जरुर पढ़ें : मध्यप्रदेश में निकली 9175 पटवारी की रिक्तियां 

पटवारी के लिए शैक्षणिक योग्यता

विभिन्न राज्यों में पटवारी पद के लिए अलग अलग शैक्षणिक योग्यता होती हैं कहीं पर 12th एवं कंप्यूटर डिप्लोमा की जरुरत होती हैं तो कहीं पर ग्रेजुएशन एवं 1 वर्षीय कंप्यूटर डिप्लोमा माँगा जाता हैं. आप किस राज्य एवं किस शहर से हैं हमें कमेंट के माध्यम से बताकर पूछ सकते हैं कि आपके राज्य में इस पद के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या है |

कंप्यूटर डिप्लोमा यह जरुरी होता हैं पटवारी की परिक्षा देने के लिए जो कि किसी सरकारी UGC द्वारा मान्यता प्राप्त संसथान से किया होना चाहिए जैसे DCA, PGDCA या समकक्ष. इसके आलावा यदि आपने BCA, BSc Computer Science या BE किया हैं तो आपको अलग से कोई डिप्लोमा देने की जरुरत नहीं होती है |

[adinserter block=”11″]

आप हमारी यह पोस्ट भी पढ़ सकते हैं :

पटवारी का वेतन कितना होता है?

यह एक राज्य सरकार का कर्मचारी होता हैं तो अन्य राज्य सरकार के कर्मचारियों की तरह ही उनके वेतन समझोते के अनुसार वेतन मिलता हैं जो शुरुआत में बेसिक पे एवं अन्य भत्तों को मिलकर लगभग 15 हजार के करीब होता है | अलग अलग राज्यों के वेतन समझोते के अनुसार अलग अलग राज्यों में कम ज्यादा हो सकता है |

तो दोस्तों आज की इस पोस्ट “पटवारी बनने के लिए क्या करें, शैक्षणिक योग्यता, वेतन आदि जानकारी हिन्दी में” में इतना ही. हमें   उम्मीद है कि आपको यह जानकारी    पसंद आई होगी. इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूलें | इस  पोस्ट या किसी अन्य सवाल के लिए आप कमेंट कर   सकते हैं,  हम जल्द से जल्द उसका जवाब देने का प्रयास करेंगे | अपने ईमेल पर  नई पोस्ट की जानकारी के लिए subscribe करना ना भूलें | धन्यवाद !