पैरा मेडिकल (Para medical) क्या है इसमें करियर कैसे बनाएँ ?

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका CareerinHindi.com में । आज के इस दौर में सबसे ज़्यादा चर्चा हैं तो हमारे कोरोना वरीयर्स की जिनमे डॉक्टर, नर्स, पैरा मेडिकल स्टाफ़, पुलिस आदि की । आज की इस पोस्ट में हम “पैरा मेडिकल (Para medical) क्या है इसमें करियर कैसे बनाएँ ?” पर चर्चा करेंगे । तो ध्यान से पढ़े इस पोस्ट को अंत तक ।

पैरा मेडिकल (Para medical) क्या है इसमें करियर कैसे बनाएँ ?
पैरा मेडिकल (Para medical) क्या है इसमें करियर कैसे बनाएँ ?

वे छात्र जो 12वी साइंस (बायोलॉजी) विषय के छात्र रहें हैं सीधे एमबीबीएस, बीडीएस, या फिर बड़े कोर्स की तरह जाते है। लेकिन जिन लोगो को इस कोर्स में एडमिशन नहीं मिलता है और जो लोग मेडिकल फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं उनका क्या? उनके लिए यह एक मौक़ा हो सकता हैं अपना करियर बनाने का ।

बहुत से छात्र को सही जानकारी नहीं होने की वजह से निराश हो जाते है फिर भी यदि आप मेडिकल क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए है। आज के इस आर्टिकल में आप जानेंगे पैरामेडिकल कोर्स के बारे में।

पैरा मेडिकल (Para medical) क्या है?

पैरामेडिकल एक जॉब ओरिएंटेड एकेडमिक प्रोग्राम है। पैरामेडिकल कोर्स में आपको सिखाया जाता है कि कैसे आप स्वास्थ्य विभाग में अच्छे से काम कर सके। पैरामेडिकल कोर्स करनेवालों को पैरामेडिक्स कहा जाता है जो स्वास्थ्य विभाग में मेडिकल टीम को सपोर्ट का काम करते है।

इस कोर्स को करने से आप फिजियोथेरेपी, लेबोरेटरी में टेक्नीशियन के रूप में काम कर सकते है। ये कोर्स एक प्रोफेशनल कोर्स है जिसे करने के बाद आप एक फिजिशियन कि ड्यूटी और साथ ही साथ इमरजेंसी में पेशंट की देखभाल और ट्रीटमेंट जैसा काम भी कर सकते है।

पैरा मेडिकल (Para medical) कोर्स के प्रकार

यह कोर्स भी कई प्रकार के होते है जैसे बैचलर डिग्री, मास्टर डिग्री, सर्टिफ़िकेशन, डिप्लोमा आदि । आइए जानते हैं विस्तार से इन विभिन्न कोर्स के बारे में।

बेचलर डिग्री कोर्स : पैरामेडिकल में बेचलर डिग्री कोर्स 3 से 4 साल का होता है। बेचलर डिग्री की लिस्ट नीचे दी गई है।

  • बैचलर ऑफ़ फिजियोथेरेपी
  • बेचलर ऑफ रेडिएशन टेक्नोलॉजी
  • बीएससी नर्सिंग
  • बीएससी एक्सरे टेक्नोलॉजी
  • बीएससी ऑपरेशन थिएटर टेक्नोलॉजी
  • बीएससी मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी
  • बीएससी मेडिकल रिकॉर्ड टेक्नोलॉजी
  • बीएससी इन ऑप्टोमेट्री
  • बीएससी इन न्यूक्लियर इमेजिन टेक्नोलॉजी

डिप्लोमा कोर्स : पैरामेडिकल में डिप्लोमा कोर्स 1 से 3 साल का होता है। डिप्लोमा कोर्स की लिस्ट नीचे दी गई है।

  • डिप्लोमा इन ओटी टेक्नीशियन
  • GNM
  • ANM
  • डिप्लोमा इन रुलर हैल्थ केयर
  • डिप्लोमा इन ऑक्युपेशनल थेरेपी
  • डिप्लोमा इन डेंटल हाइजीनिक
  • डिप्लोमा इन एक्सरे टेक्नोलॉजी
  • डिप्लोमा इन फिजियोथेरेपी

सर्टिफिकेट कोर्स : पैरामेडिकल में सर्टिफिकेट कोर्स 6 महीने से 2 साल का होता है। विभिन्न सर्टिफिकेट कोर्स इस प्रकार हैं ।

  • सर्टिफिकेट इन एक्सरे टेक्नीशियन
  • सर्टिफिकेट इन टेक्नीशियन और लैब असिस्टेंट
  • सर्टिफ़िकेट इन नर्सिंग केयर असिस्टेंट
  • सर्टिफ़िकेट इन रूरल हेल्थ केयर
  • सर्टिफ़िकेट एचआईवी एंड फैमिली एजुकेशन
  • सर्टिफ़िकेट इन डेंटल असिस्टेंट
  • सर्टिफ़िकेट इन होम बेस्ड हेल्थ केयर
  • सर्टिफ़िकेट इन डायलिसिस टेक्नीशियन

पैरा मेडिकल (Para medical) कोर्स कैसे करे?

आप में से कुछ को इस बात की जानकारी नहीं है कि पैरामेडिकल कोर्स को कैसे करे? और शायद आपके मन में भी यह सवाल उठ सकता है। तो, चिंता न करें, यहां पर आपको नीचे सारी जानकारी की लिस्ट दी गई है। जिसकी मदद से पैरामेडिकल कोर्स को करने के लिए जानना आवश्यक है:

पैरा मेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या है?

पैरामेडिकल कोर्स को आप 10 वी के बाद भी कर सकते है। पैरा मेडिकल कोर्स के लिए छात्र को 12वीं में साइंस में पास होना जरूरी है। लेकिन छात्र को 12वी साइंस में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट का होना भी जरूरी है। उसके बाद छात्र पैरामेडिकल का कोर्स में एडमिशन ले सकता है ।

पैरा मेडिकल कोर्स में प्रवेश प्रक्रिया

पैरामेडिकल कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको कुछ कॉलेज में सीधे एडमिशन मिल जाता है जबकि कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए आपको उनकी एंट्रेंस एग्जाम देना जरूरी है। यदि आप उनके मेरिट लिस्ट में आते है तो ही आपको आपकी मनपसंद कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एडमिशन मिल सकता है।

पैरामेडिकल कोर्स की फीस

पैरामेडिकल कोर्स में फीस अलग अलग कोर्स और अलग अलग कॉलेज पर आधारित है। फिर भी सामान्य Certificate course की एवरेज फीस 50,000₹ एक सेमेस्टर की होती है। यदि डिप्लोमा कोर्स की फीस 35000 से लेकर 40000₹ सेमेस्टर की होती है और एक बेचलर डिग्री कोर्स की फीस ₹60000 एक साल की होती है।

पैरा मेडिकल के बाद करियर और जॉब

पैरामेडिकल प्रोफेशनल्स के लिए रोजगार का अवसर दिन-ब-दिन बढ़ रहा है। जैसा आप सभी जानते है कि जैसे जैसे टेक्नोलॉजी विकास हुई है वैसे वैसे मेडिकल क्षेत्र भी बढ़ा है। आज के समय में मेडिकल क्षेत्र में पैरामेडिकल प्रोफेशनल की बहुत ज्यादा डिमांड है कि जो इमरजेंसी में डॉक्टर को सपोर्ट कर सके।

आज के समय में सरकारी अस्पताल, प्राइवेट अस्पताल और इन पैरामेडिक्स में सरकारी और निजी अस्पतालों, क्लीनिक सेंटर में पैरामेडिकल प्रोफेशनल की जरूरत भी है। जहा पर आप अपना कैरियर बना सकते है।

पैरामेडिक्स प्रोफेशनल की विदेश में भी बहुत सारे कैरियर ऑपर्च्युनिटी है। यदि आप किसी भी पैरामेडिकल स्ट्रीम में से बेसिक कोर्स भी पूरा कर लेते है तो उसके बाद, आप अपना नर्सिंग होम, अस्पताल, क्लिनिक और स्वास्थ्य विभागों के साथ-साथ कॉलेज और विश्वविद्यालयों में लेक्चरर की नौकरी कर सकते हैं।

पैरामेडिकल कोर्स के बाद सेलरी

यदि आपने एक पैरामेडिकल कोर्स किया है तो आप आसानी से 2 लाख से लेकर 8 लाख की सेलरी पा सकते है। फिर भी यह आपके अनुभव, आपके स्किल्स और आपके प्रोफैशन पर आधारित है। इसके अलावा प्राइवेट सेक्टर में आपको पब्लिक सेक्टर से ज्यादा सेलरी मिलती है।

तो दोस्तों यह थी जानकारी पैरा मेडिकल के बारे में हमें उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट “पैरा मेडिकल (Para medical) क्या है इसमें करियर कैसे बनाएँ ?” ज़रूर पसंद आइ होगी । आपसे एक आग्रह है कि इस पोस्ट को अधित से अधिक अपने दोस्तों में share करें एवं हमें सोशल मीडिया पर follow करें ।