बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका

Content Protection by DMCA.com

Hello friends, careerinhindi.com में फिर एक बार आपका स्वागत हैं | दोस्तों पिछली कुछ पोस्ट जैसे बैंक जॉब के लिए क्या करें, IBPS क्या हैं पोस्ट में हम बैंक में होने वाली भारतियों के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर चुके हैं | यदि आपने ये पोस्ट नहीं पढ़ी तो आप पढ़ सकते हैं | आज की हमारी इस पोस्ट “बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका” के शीर्षक से ही  साफ़ हो रहा हैं  है कि हम बैंक मेनेजर के  विषय में बात करने जा  रहें है |

दोस्तों शुरू करने से पहले मैं आपके ध्यान में एक बात लाना चाहूँगा कि बैंक मेनेजर एक ऐसा पद हैं जो कि बहुत ही जवाबदारी भरा होता हैं, उस पद पर कार्य करते हुए कई अहम फैसले लेना होते हैं इसी कारण किसी भी बैंक में मेनेजर के लिए सीधी भर्ती नहीं की जाती हैं, और यदि की भी जाती हैं तो वह सिर्फ अनुभव के आधार पर ही होती हैं |

बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका

बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका

Bank manager kaise bane

बैंक में आप 2 तरह से जा सकते हैं पहला लिपिक (क्लर्क) के तौर पर और दूसरा पी.ओ. (अधिकारी) के रूप में | दोनों में से किसी भी तौर पर आप बैंक ज्वाइन करें आप मेनेजर बन सकते हैं | आइये हम जानते हैं विस्तार से |

बैंक मेनेजर के लिए शैक्षणिक योग्यता

यदि आप सरकारी बैंक में मेनेजर बनना चाहते है तो आपको सबसे पहले अपना ग्रेजुएशन पूरा करके IBPS क्लियर करना होगी, उसके बाद आप बैंक में क्लर्क या पी.ओ. के रूप में ज्वाइन कर सकेंगे | ज्वाइन करने के बाद आपको IIBF द्वारा आयोजित JAIIB एवं CAIIB एवं इंटरनल प्रमोशन परीक्षा पास करके इंटरव्यू में भी सफल होना होगा |

प्राइवेट बैंक में मेनेजर बनने के लिए आपको अनुभव एवं आपकी उच्च शिक्षा जैसे MBA के आधार पर मेनेजर का पद मिल सकता है |

बैंक मेनेजर की सैलरी कितनी होती है

एक बैंक सरकारी बैंक में मेनेजर की सैलरी तक़रीबन 50 से प्रारभं होती है जो समय के साथ साथ बढ़ती जाती है वही प्राइवेट बैंक के मेनेजर की सैलरी उसके काम एवं अनुभव पर निर्भर करती है |

एसएससी क्या है ? | सॉफ्टवेर इंजिनियर कैसे बनें ?

क्लर्क से मेनेजर कैसे बना जा सकता है 

अगर आपने क्लर्क के रूप में बैंक ज्वाइन किया हो तो मेनेजर बनने के लिए आपको सबसे पहले लिपिक वर्ग से अधिकारी वर्ग में में पदोन्नति (प्रमोशन) लेना होगा | लिपिक से अधिकारी वर्ग में प्रमोशन लेने के लिए बैंक द्वारा निर्धारित कुछ वर्ष (2-5) की नौकरी पूर्ण होना होती है | इसके आलावा यदि आप बैंक जॉब करते हुए IIBF द्वारा आयोजित JAIIB एवं CAIIB ये दो परीक्षाएं उत्तीर्ण कर लेते है तो आपको उसके अतिरिक्त नंबर भी मिलते है |

उपरोक्त पदोन्नति परीक्षा एवं साक्षात्कार में यदि आप सफल हो जाते है तो आपको लिपिक से अधिकारी (स्केल 1) के रूप में पदोन्नत कर उप प्रबंधक/सहायक प्रबंधक के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है जहाँ कुछ 2-3 वर्षों के अनुभव के बाद आप दोबारा अगले स्केल (स्केल 2) में पदोन्नत होकर मेनेजर बन सकते है |

बैंक में इस तरह से स्केल 1 से स्केल 7 तक के अधिकारी को जाना जाता है | बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका

  • स्केल 1 : उप प्रबंधक
  • स्केल 2 : प्रबंधक
  • स्केल 3 : वरिष्ठ प्रबंधक
  • स्केल 4 : मुख्य प्रबंधक
  • स्केल 5 : सहायक महा प्रबंधक
  • स्केल 6 : उप महा प्रबंधक
  • स्केल 7 : महा प्रबंधक

यहाँ पर एक और बात ध्यान में रखने वाली यह है कि जितनी बड़ी बैंक की ब्रांच होगी वहां पर उतने बड़े स्केल का मेनेजर होगा तो ऐसे में कही पर स्केल 2 भी ब्रांच मेनेजर हो सकता है तो कही पर स्केल 6 भी | बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका

पी.ओ. से मेनेजर कैसे बना जा सकता है 

क्लर्क की अपेक्षा पी.ओ. से मेनेजर बनना काफी आसान है | अगर आपने बैंक में पी.ओ. के रूप ज्वाइन किया है तो आप स्केल 1 के अधिकारी होते है और आपको सिर्फ एक प्रमोशन लेना है जिसके बाद आप मेनेजर बन सकते हैं | किन्तु प्रमोशन लेने के लिए वही बैंक द्वरा निर्धारित 2-3 वर्षों की नौकरी पूरी होना अनिवार्य है | इस तरह से आप बैंक में मेनेजर बन सकते है |

तो दोस्तों देखा आपने बैंक में मेनेजर बनने के लिए क्या करना पढ़ता हैं | मुझे उम्मीद है कि आपको उपरोक्त जानकारी समझ में आई होगी यदि अब भी आपके मन में बैंक मेनेजर से जुड़ा सवाल है तो आप बेशक हमसे कमेंट में पूछ सकते है | आप हमे सोशल मीडिया पर भी ज्वाइन कर सकते हैं हमारा facebook page लाइक करके | बैंक मेनेजर कैसे बनें, क्या हैं तरीका