बैचलर ऑफ़ आर्ट BA क्या होता है

हमारे देश में 12th के बाद सबसे ज्यादा किया जाने वाला कोर्स BA यानि Bachelor of Arts जिसके बारे में हम आज हम हमारी इस पोस्ट “बैचलर ऑफ़ आर्ट BA क्या होता है” में जानकारी प्राप्त करेंगे इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेगे कि क्या होता है BA, BA करने के बाद क्या करें, BA की फ़ीस एवं BA के बाद क्या स्कोप है आदि |

11th में आर्ट लेने वाले छात्रों के लिए 12th के बाद BA पहला विकल्प होता है BA एक ग्रेजुएशन प्रोग्राम है जिसे पूर्ण करने वाले छात्र ग्रेजुएट कहलाते हैं | जो छात्र अपना ग्रेजुएशन आसानी से कम्पलीट करना चाहते हैं उनके लिए यह बहुत ही बढ़िया विकल्प है, क्योकि दुसरे ग्रेजुएशन प्रोग्राम जैसे B.Sc, B.com आदि BA की अपेक्षा थोड़े जटिल होते हैं |

बैचलर ऑफ़ आर्ट BA क्या होता है

BA करने के क्या फायदे हैं

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि ग्रेजुएशन प्रोग्राम में BA बहुत ही आसन होता है तो इसको करने के कई सारे फायदे हैं आप ग्रेजुएट हो जाते हैं, ज्यादा स्टडी का लोड नहीं रहता है, असफल होने की संभावना बहुत ही कम या ना के बराबर होती है ऐसे कई सारे फायदे हैं BA करने के| बैचलर ऑफ़ आर्ट BA क्या होता है

BA करने के लिए क्या चाहिए

यदि आप BA करना चाहते है तो आपको सिर्फ 12th पास होना काफी हैं | आप चाहे 12th आर्ट संकाय से पास हों या किसी और विषय से आपको BA में एडमिशन मिल जाता हैं | अगर आपने 11th – 12th में भी आर्ट पढ़ा है तो आपको काफी आसानी हो जाती है क्योकि 11th – 12th में आपको वही सब्जेक्ट पढ़ाये जाते हैं जो आपको BA में पढ़ना होते हैं |

BA में प्रवेश के लिए ज्यादातर कॉलेज या यूनिवर्सिटी में कोई प्रवेश परिक्षा का आयोजन नहीं किया जाता है | आप 12th के रिजल्ट के आधार पर ही BA में प्रवेश ले सकते हैं | हर वर्ष जून – जुलाई में एडमिशन प्रारंभ हो जाते हैं तब आप अपने नजदीकी कॉलेज में आवेदन कर सकते हैं|

BA के बाद क्या ?

  • BA जो कि एक ग्रेजुएट प्रोग्राम है आप इसके बाद पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं जैसे MA.
  • BA के बाद आप प्रतियोगी परीक्षाओं को दे सकते हैं जिनमे ग्रेजुएशन माँगा जाता है जय जैसे बैंक क्लर्क या पी ओ या फिर एसएससी आदि |
  • B Ed एक अच्छा आप्शन हो सकता है यदि आप टीचर बनना चाहते हैं तो |
  • 1 year Diploma जैसे PGDCA, DCA, ADCA जिससे आप कंप्यूटर फील्ड में करियर बना सकते हैं
  • BA के बाद आप नौकरी करना चाहते हैं तो भी आपके लिए कई सारे आप्शन होते हैं |

इसके आलावा और भी कई सारे आप्शन होते हैं BA के बाद जो आप कर सकते है |

BA से जुडी कुछ अन्य जानकारी

  • BA 3 वर्ष का कोर्स है जो आप रेगुलर या प्राइवेट कर सकते हैं
  • BA में आप इतिहास, राजनीती शास्त्र, भूगोल, अर्थशास्त्र जैसे subject पढ़ते हैं |
  • इसकी फ़ीस ज्यादा नहीं होती अगर आप प्राइवेट कॉलेज से करेंगे तो वहां की फ़ीस 15-20 हजार रूपये प्रति वर्ष या उससे ज्यादा हो सकती है|

आपको यह पोस्ट “बैचलर ऑफ़ आर्ट [BA] क्या होता है” कैसी लगी हमें जरुर बताएं ताकि हम और बेहतर जानकारी आप तक पहुंचा सकें | आप हमारा facebook page like कर सकते है या हमे subscribe कर सकते है | किसी अन्य जानकारी के लिए कमेंट करना ना भूलें |

Share

Recent Posts

Engineering fields detail in Hindi

Hello friends, स्वागत है आपका careerinhindi में आज हम इस पोस्ट "Engineering fields detail in Hindi" में बात करेंगे  विभिन्न…

4 mins ago
  • Education

भारत के केंद्रीय विश्वविद्यालय | Central University of India

हमारे देश में कुल 49 केंद्रीय विश्वविद्यालय (Central University) हैं जो केंद्र सरकार, मानव संसाधन विकास द्वारा संचालित किए जाते…

2 months ago

करियर कंसल्टेन्सी बिज़नेस कैसे शरू करे (How to start a career consultancy business)

अगर आप एक career consultancy business शुरू करना चाहते है तो येजानना आपके लिए जरुरी है की आज के समय में बिज़नेस रजिस्ट्रेशन वGST Registration करवाना अनिवार्य हो गया है तो इस बात को ध्यान मेंरखते हुए इनका रजिस्ट्रेशन जरूर करवाए।   इस आर्टिकल को पढ़ने के बादआपको एक आईडिया मिल जायेगा इन सबके बारे में। क्या है ज़रूरी है ?   मार्केट रिसर्च कैसे करे   मार्किट रिसर्च किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले अत्यंत आवष्यक हैक्योंकि रिसर्च करने के बाद आपको पता चलेगा की आपको किस प्रकार सेप्लानिंग करने की आवशयकता है। जैसे की रिसर्च करते समय आपको पताचलेगा की अभी मार्किट में आपके बिज़नेस से सम्बंधित  किस प्रकार कीसेवाएं प्रदान की जा रही है व् उन सेवाओं के चार्जेज क्या है तो ये सब पताचलने पर आप अपनी सेवाए बढ़ा कर, कीमत घटा सकते है जिससे कीआपके पास ज्यादा लोग आकर आपसे सेवा प्राप्त कर सकेंगे। रिसर्च करनेके बाद आप जान सकेंगे की आप किस प्रकार से ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिटप्राप्त कर सकते है तथा अपनी सेवाए किस प्रकार से बेहतर कर सकते है।रिसर्च करने के बाद आप जान सकेंगे की आपको कितना निवेश करने कीआवश्यकता है। उसके बाद आपको बिज़नेस शुरू करने के लिए अच्छीप्लानिंग करनी पड़ेगी। प्लानिंग करने के आप आपको अपने बिज़नेस कारजिस्ट्रेशन करवाना होगा । बिज़नेस का रजिस्ट्रेशन अपने बिज़नेस का रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत आवश्यक क्योंकि इसकाप्रमाण पत्र सरकारी योजनाओ से लाभ प्राप्त करने करने के लिए काफीमहत्वपूर्ण है । अगर आप अपने बिज़नेस का रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते है तोआपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है । अगर आप एककरियर कंसल्टेंसी का बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो आपको बिज़नेसरजिस्टर करवाना होगा। आप खुद की प्राइवेट लिमिटेड कंपनी भी शुरू करसकते है जिसके लिए आपको Ministry of Corporate affairs के  नियमोंऔर विनियमन का पालन करना होगा, आप अपनी खुद की कंपनी शुरू करसकते हैं न्यूनतम 2 व्यक्ति के साथ और आप MCA के पोर्टल के माध्यम सेअपना व्यवसाय ऑनलाइन पंजीकृत कर सकते हैं। यदि आप अपनेव्यवसाय को एक साझेदारी फर्म के रूप में शुरू करना चाहते हैं, तो शुरूकरने  के लिए 2 व्यक्तियों की आवश्यकता होगी और आप अपनीसाझेदारी फर्म को रजिस्ट्रार ऑफ फर्म  के साथ पंजीकृत कर सकते हैं, आपको सभी भागीदारों के बीच एक अनुबंध विलेख बनाना होगा उसके बादआप अपना बिज़नेस शुरू कर पाएंगे । बिज़नेस रजिस्ट्रेशन के कई फायदे हैजैसे की आपको अगर लोन चाहिए होगा तो आप कंपनी के नाम से बैंक से लोन प्राप्त कर सकते है।   Private Limited…

3 months ago
  • Hindi
  • SSC
  • करियर

SSC क्या होता है पूरी जानकारी

Careerinhindi.com में आपका स्वागत है आज हम बात करने जा रहे हैं "SSC क्या होता है पूरी जानकारी" इस पोस्ट…

4 months ago
  • Engineering

जेईई एडवांस (JEE Advanced) क्या हैं पूरी जानकारी

Hello friends, फिर एक बार आपका स्वागत हैं careerinhindi।com  में । पिछली पोस्ट में आपने पढ़ा कि JEE Mains क्या…

4 months ago
  • Engineering

जेईई मेन (JEE Main) क्या होता हैं पूरी जानकारी

अगर आप भी Engineer बनने का सपना देखते हैं तो यह जरुरी हैं कि आपको सही समय पर सही जानकारी…

4 months ago