केंद्रीय विद्यालय | Central School 

यह विद्यालय विशेषकर भारत सरकार के विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों के बच्चों के लिए बनाया गया हैं, हालाँकि इन विद्यालयों में सीट बचने पर कुछ कोटा आम जनता के लिए भी होता है । इन विद्यालयों को इस बात को ध्यान में रख कर बनाया गया हैं कि कोई भी सरकारी कर्मचारी का यदि तबादला होता है तो उसके बच्चों को नए तैनाती स्थान पर उसी कक्षा में प्रवेश मिल जाता हैं एवं शिक्षा का स्तर समान  एवं समय एक होने के कारण छात्रों को अधिक दिक़्क़तों का सामना नहीं करना पढ़ता है ।

  • अनुबंध :  केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education या CBSE)
  • स्थापना :  इसकी स्थापना 1963 में हुई थी ।
  • संचालन : इन विद्यालयों का संचालन केंद्रीय विद्यालय संगठन द्वारा किया जाता है ।
  • पाठ्यक्रम : इन विद्यालयों में राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (National Council of Educational Research and Training – NCERT) द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम का अनुसरण होता है ।