पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं

क्या आपका ग्रेजुएशन पूरा हो गया हैं ? और आप कंप्यूटर फील्ड में करियर बनाना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं | आज हम हमारी इस पोस्ट “पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं” में PGDCA से जुड़े कई सवालों के जवाब प्राप्त करेंगे जैसे PGDCA कब कर सकते हैं, PGDCA करने के लिए क्या चाहिए, PGDCA की फ़ीस कितनी होती हैं आदि |

अगर आप चाहते हैं कि अपना ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद एवं कहीं पर जॉब करने के पहले कंप्यूटर सीखें तो आपके लिए PGDCA best आप्शन हो सकता हैं| इस कौर्स को करने के बाद आप कहीं पर भी जॉब करने जायेंगे तो कंप्यूटर देख कर या उसपर काम करने में दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा | आजकल अधिकतर दफ्तरों में कंप्यूटर पर ही कार्य किया जाता हैं तो आपको भी निश्चित ही कंप्यूटर का उपयोग करना पड़ेगा इसलिए अगर आप ग्रेजुएट हैं तो इस कोर्स को जरुर करें | PGDCA करने के और भी कई फायदे हैं जो आप इस पोस्ट में पढेंगे |

[adinserter block=”11″]

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं

PGDCA यानि Post graduate diploma in computer application जो एक ऐसा डिप्लोमा होता हैं जिसे ग्रेजुएशन के बाद किया जा सकता हैं| आप कोई भी subject में ग्रेजुएट हो आप PGDCA कर सकते हैं | अगर आप computer field में करियर बनाना चाहते हैं जैसे computer operator, programmer, web developer तो आप इस course को कर सकते हैं |

PGDCA करने के फायदे

वैसे तो कोई भी ज्ञान बेकार नहीं जाता हम जितना सीखते हैं उतना ही कम होता हैं| PGDCA एक ऐसा कौर्स हैं जिसे करने के कई फायदे हैं जो निम्न हैं | पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं

  • Computer की basic से लेकर advance knowledge हो जाती है |
  • Govt job एवं private job में फ़ायदा मिलता हैं |
  • MCA या MBA जैसे कौर्स में सीधे प्रवेश के पात्र हो सकते हैं |
  • कुछ  यूनिवर्सिटी में MCA के 3rd सेमिस्टर में सीधे प्रवेश मिलता है |
  • PGDCA करने के बाद आप अपना computer center, coaching class,  खोल सकते हैं |
  • Govt की एजेंसीज जैसे MP online, banking kisyosk, business correspondences,आदि ले सकते हैं |

[adinserter block=”12″]

हमारी अन्य पोस्ट :

PGDCA कितने समय का होता हैं ?

इस कौर्स (PGDCA) में कुल 6-6 महीने के २ सेमिस्टर होते हैं इस तरह यह कौर्स 1 वर्ष का हो जाता हैं |

PGDCA कब कर सकते हैं ?

ग्रेजुएशन के बाद आप PGDCA कर सकते हैं |

PGDCA की फ़ीस कितनी होती है ?

इस कौर्स की फ़ीस अलग अलग संस्थानों में अलग अलग हो सकती हैं, PGDCA एक अनुमानित फ़ीस की फ़ीस तक़रीबन 12 हजार से 40 हजार तक हो सकती हैं |

[adinserter block=”11″]

PGDCA कहाँ से करें ?

आप IGNU, Aisect, Sikkim manipal university, Panjab national university, Makhanlal chaturvedi university, के आलावा अन्य कई सारी university हैं जहाँ से आप PGDCA कर सकते हैं |

इस आर्टिकल में PGDCA से जुडी इतनी ही जानकरी अन्य विषयों से जुडी जानकरी के लिए आप हमें subscribe कर सकते हैं या हमारा facebook page भी like कर सकते हैं | आप इस पोस्ट “पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) क्या होता हैं” से जुडी अपनी राय या कोई सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं, हम जल्द ही उसका जवाब देने का प्रयास करेंगे |

  • punam

    punam

    16th June 2017

    Kya hum+2 ka bd yaPGDCA. Coures bio kr Alta

    • Rajveer Sharma

      Rajveer Sharma

      16th June 2017

      कृपया सही सही शब्दों में अपना सवाल पूछें |

Leave your comment
Comment
Name
Email