टाटा समूह (TATA Group) में करियर

नमस्कार दोस्तों! careerinhindi.com में आपका स्वागत है। हमारे आज के इस पोस्ट “टाटा समूह (TATA Group) में करियर” के जरिये हम आपको टाटा समूह तथा इसमें करियर संभावनाओं के बारे बताएँगे। पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक पढ़े।

टाटा समूह (TATA Group) में करियर

टाटा समूह (TATA Group) में करियर
टाटा समूह (TATA Group) में करियर

टाटा समूह (TATA Group) का इतिहास

दोस्तों, टाटा ग्रुप की स्थापना 1868 में एक निजी व्यापारिक फर्म के रूप में उद्यमी और समाजसेवी जमशेदजी नुसरवानजी टाटा द्वारा की गई थी। वर्ष 1902 में टाटा समूह ने ताजमहल पैलेस एंड टॉवर को कमीशन करने के लिए इंडियन होटल्स कंपनी को भारत के  पहले लक्जरी होटल शामिल किया और वर्ष 1903 में लोगों के लिए खोल दिया गया था। जमशेदजी की मृत्यु के बाद, उनके बेटे सर दोराबजी टाटा ने टाटा समूह की कुर्सी संभाली। दोराबजी के नेतृत्व में समूह ने तेजी से विविधता हासिल की,  स्टील, बिजली, शिक्षा, उपभोक्ता वस्तुओं, और विमानन सहित नए उद्योगों के एक विशाल सारणी तैयार कर ली थी। वर्ष 1932 में दोराबजी भी चल बसे और उनके बाद सर नवरोजी समूह की अध्यक्ष बन गए। छह साल बाद जहाँगीर रतनजी दादाभाई टाटा ने समूह पद संभाला।

कंपनी के नए क्षेत्रों जैसे रसायन, प्रौद्योगिकी, सौंदर्य प्रसाधन, विपणन, इंजीनियरिंग, विनिर्माण, चाय, और सॉफ्टवेयर सेवाओं में समूह का निरंतर विस्तार हुआ। टाटा समूह अंतर्राष्ट्रीय मान्यता सन 1945 में टाटा समूह ने इंजीनियरिंग और लोकोमोटिव उत्पादों के निर्माण के लिए टेल्को नाम की कंपनी की स्थापना की। फिर वर्ष 2003 में इसका नाम बदलकर टाटा मोटर्स कर दिया गया। वर्ष 1991 में, जेआरडी के भतीजे, भारतीय व्यापार मोगुल रतन टाटा को टाटा समूह के अध्यक्ष के रूप में उत्तराधिकारी बनाया। समूह का मुखिया होने के नाते रतन टाटा  ने आक्रामक रूप से समूह का विस्तार किया, और तेजी से अपने व्यवसायों को विश्व स्तर तक ले गये। चेयरमैन के रूप में रतन टाटा जी का दूसरा कार्यकाल जनवरी 2017 में समाप्त हुआ और फिर नटराजन चंद्रशेखरन को उस पद पर नियुक्त किया गया।

TATA Group के अंतर्गत कितनी सह-कंपनियां है ?

दोस्तों, टाटा ग्रुप की स्थापना 1868 में जमशेदजी टाटा द्वारा की गयी थी जिसमें तीस से ज्यादा 30 कंपनियां शामिल है जो छह महाद्वीपों में सौ से भी अधिक देशों में काम करता है। कंपनियों में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील, टाटा केमिकल्स, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, टाइटन, टाटा कैपिटल, टाटा पावर, टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स, इंडियन होटल्स और टाटा कम्युनिकेशंस आदि शामिल हैं। इसके अलावा टाटा समूह, कई प्राथमिक व्यावसायिक क्षेत्रों को शामिल करने वाली लगभग सौ कंपनियों के निजी स्वामित्व हासिल करने वाला समूह है।

टाटा समूह के शेयर्स का देश के विकास में क्या योगदान है ?

टाटा संस और  टाटा कम्पनीज, टाटा समूह के प्रमुख निवेश होल्डिंग कंपनी और प्रमोटर है। टाटा संस की साठ प्रतिशत इक्विटी शेयर पूंजी परोपकारी ट्रस्टों के पास है, जो शिक्षा, स्वास्थ्य, आजीविका उत्पादन, कला और संस्कृति का समर्थन करते हैं। वर्ष 2018-19 में, टाटा कंपनियों का राजस्व लगभग 792,710 करोड़ रु था। ये कंपनियां सामूहिक रूप से 720,000 से अधिक लोगों को रोजगार देती हैं।

Products of TATA Group टाटा समूह के प्रोजेक्ट्स

टाटा प्रोजेक्ट्स में, हमेशा कुशल और सक्षम टीम के निर्माण के लिए प्रयासरत रहती हैं जो हमें व्यवसाय में आगे रखती हैं। टाटा प्रोजेक्ट्स का मानना ​​है कि संगठन और टाटा समूह में नेतृत्व के पदों पर बढ़ने के लिए प्रतिभा को प्रशिक्षण और सलाह देने की पूर्ण आजादी है। यहाँ संगठन से नियमित प्रतिक्रिया ली जाती  हैं और नई नीतियों और प्रक्रियाओं के विकास के लिए उसे एक इनपुट के रूप में उपयोग करते हैं।

  • TCS
  • TATA स्टील
  • TATA Moters
  • TATA Consumer product
  • Tanishq

ऐसे ही कई सारे उत्पाद है जिनपर देश की जनता विश्वास करती है ।

टाटा समूह में युवाओं के लिए करियर की क्या संभावनाएं हैं ? Career in TATA Group

दोस्तों, टाटा समूह के किसी भी कंपनी में आपका भविष्य सुनहरा है। टाटा समूह आपको नौकरी देने से लेकर उस पद के आपको उचित ट्रेनिंग भी देते हैं। फ्रेशर युवा टाटा समूह में अपनी स्किल बढ़ाने के लिए इंटर्नशिप भी कर सकते हैं।

हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट “टाटा समूह (TATA Group) में करियर” के जरिये आपको टाटा समूह के बारें में विस्तृत जानकारी मिली होगी । इसी तरह की अन्य करियर संबंधित जानकारी पढ़ने के लिए  हमें  सोशल  मीडिया पर फ़ॉलो करें  Facebook – Youtube इस पोस्ट से जुड़ी किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप हमसे कमेंट के माध्यम से संपर्क कर सकते है । धन्यवाद !