लेखक (Writer) कैसे बनें ?

नमस्कार दोस्तों! careerinhindi.com में आपका स्वागत है। हमारे आज के इस पोस्ट के जरिये हम आपको बतायेंगे कि लेखक (Writer) कैसे बनें ? और इसमें करियर कैसे बना सकते है। दोस्तों, सम्पूर्ण जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े, हमें उम्मीद हैं कि अन्य पोस्ट की ही तरह आपको यह पोस्ट भी पसंद आएँगी ।

दोस्तों, लेखन का क्षेत्र के आपके लिए आकर्षक करियर में से एक है। अभी के दौर में यह पसंदीदा पेशे में से एक है क्योंकि यह नाम और सम्मान दोनों है। तो आइए लेखक और लेखनी के बारे में विस्तार से जानते हैं ।

लेखक (Writer) कैसे बनें ?

लेखक (Writer) कैसे बनें ?
लेखक (Writer) कैसे बनें ?

लेखक बनने के लिए क्या करें ?

लेखक बनने के लिए आप सम्बंधित भाषा में स्नातक कोर्स कर सकते हैं। साथ ही आप जनसंचार एवं पत्रकारिता में भी स्नातक की डिग्री ले सकते है जिसके लिए  आपका कक्षा 12 में न्यूनतम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य हैं। रचनात्मक लेखन में प्रमाण पत्र और डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में नामांकन के लिए न्यूनतम योग्यता  कक्षा 12 में 50% होना आवश्यक है।

लेखक बनने के लिए जरुरी कौशल क्या है ?

जो व्यक्ति एक अच्छा लेखक बनना चाहता है, उसके पास रचनात्मक और भाषा कौशल दोनों होना चाहिए। रचनात्मक लेखकों को कई नामों से जाना जाता है जैसे उपन्यासकार, कवि, गीतकार आदि। एक लेखक अपनी रचनाओं के माध्यम से किसी व्यक्ति में भावनाओं को भड़काने में सक्षम होता है। रचनात्मक लेखन के लिए बहुत अधिक शोध और कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है। एक लेखक को कल्पनाशील विचारों और विचारों के माध्यम से अपनी भावनाओं को व्यक्त करना पड़ता है।

लेखक के तौर पर करियर में क्या सम्भावनाएँ हैं ?

दोस्तों, अगर आप लेखक बनने के लिए इच्छुक और आपको लिखने का शौक है तो  रचनात्मक लेखन उन लोगों के लिए एक संभावित कैरियर है जो लेखन में रुचि रखते हैं और क्षेत्र के प्रति जुनून रखते हैं। रचनात्मक लेखन में कैरियर पैसा और शोहरत दोनों देता है। एक रचनात्मक लेखक के तौर पर कुछ लोकप्रिय नौकरी की सूची इस प्रकार है: –

  • कंटेंट राइटर्स: इन राइटर्स में कंटेंट राइटिंग से लेकर ब्लॉगिंग से लेकर फ्रीलान्स राइटिंग से लेकर टेक्निकल राइटिंग तक के अपने अपने काम होते हैं।
  • कॉपीराइटर: कॉपीराइटर विज्ञापन पत्र, ब्रोशर, समाचार पत्र, कैटलॉग आदि लिखते हैं।
  • लेख लेखक: ये लेखक विभिन्न विषयों जैसे कि शिक्षा, भोजन, खेल, मनोरंजन, व्यवसाय, स्वास्थ्य आदि पर लेख लिखते हैं।
  • स्क्रिप्ट राइटर: राइटर्स जो डायलॉग लिखने में अच्छे होते हैं वे स्क्रिप्ट राइटर बन सकते हैं। ये लेखक फिल्मों, टेलीविजन शो और नाटकों के लिए सामग्री लिखते हैं।
  • गीतकार: लेखक जो भाषण, रूपकों और कविता के आंकड़ों के साथ सबसे अधिक कुशल हैं, गीत लिखकर गीतकार बनकर अपना करियर चमका सकते हैं।
  • तकनीकी लेखक: एक लेखक जो आम लोगों की समझ के लिए सरल भाषा में कंपनियों के उत्पादों की तकनीकी शर्तों का अनुवाद या व्याख्या करता है, तकनीकी लेखक कहलाता है।

कई एजेंसियों और कंपनियों में क्रिएटिव राइटर्स / लेखकों की आवश्यकता होती है। समाचार पत्र, विज्ञापन एजेंसियां, पुस्तक प्रकाशन एजेंसियां, परिवहन क्षेत्र ​​(तकनीकी लेखक), संपादन, फिल्में / मनोरंजन तथा मीडिया क्षेत्रों में लेखकों की बेहद ही मांग है।

एक लेखक का औसत वेतन क्या होता है ?

लेखक की तनख्वाह कभी भी स्थिर नहीं होती है, और यह उनके रचनात्मक कौशल और अनुभव पर निर्भर करता है। रचनात्मक लेखन में कुछ पदों पर अनुभव के आधार पर निश्चित वेतन की पेशकश की जाती जहाँ उनका मासिक औसत वेतन 10, 000 से लाख रु  तक हो सकता है।

इसके अलावा अगर कोई लेखक अपने द्वारा लिखी किताब प्रकाशित करता या करवाता हैं और वह लोगों को पसंद आती हैं तो उससे मिलने वाली रॉयल्टी के द्वारा बेशुमार दौलत कमाई जा सकती है ।

हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट के जरिये अपने रचनात्मक लेखन से आपको अपने करियर को निखारने में अवश्य ही मदद मिलेगी। इसी तरह की अन्य करियर संबंधित जानकारी पढ़ने के लिए  हमें  सोशल  मीडिया पर फ़ॉलो करें  Facebook – Youtube  इस पोस्ट से जुड़ी किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप हमसे कमेंट के माध्यम से संपर्क कर सकते है । धन्यवाद !